Friday, 20 November 2015

Mujhe sabse zyada kis baat se bachna chahiye ? /

मुझे सबसे ज़्यादा किस बात से बचना चाहिए ?

IRSHADE BAARI TA'ALA HAI.

Yaad karo jab Luqmaan(Alayhissalam) ne apne bete se, usey naseehat karte hue kahaa- Ay mere bete ! ALLAH k sath shirk na kar. Beshk Shirk bahut badaa zulm hai.
Quran ( Lukman 31/13)

“A Imaan walo ! Bahut bad gumaaniyo se bacho, yakin mano baz bad gumaaniya gunaah hai.
Aur  bhed na tatola karo aur na tum men se koi kisi ki gibat kare- kya tum se koi bhi apne murda bhai ka gost khana pasand karta hai ? tum ko isse ghinn aayegi'
aur ALLAH se darte raho Beshk ALLAH tauba kabul karne wala mehrban hai.

Quran (Sura Huzrat 49/12)

याद करो जब लुक़मान(अलायहिस्सलाम) ने अपने बेटे से, उसे नसीहत करते हुए कहा- ए मेरे बेटे ! अल्लाह के साथ शिर्क ना कर. बेशक शिर्क बहुत बड़ा ज़ुल्म है.”
क़ुरान (सुरा लुक़मान 31/13)

“ए ईमान वालो ! बहुत बद गुमानियो से बचो, यकीन मानो बाज़ बद गुमानिया गुनाह है. और  भेद ना टटोला करो और ना तुम में से कोई किसी की गीबत करे- क्या तुम से कोई भी अपने मुर्दा भाई का गोस्त खाना पसंद करता है ? तुम को इससे घिन्न आएगी' और अल्लाह से डरते रहो बेशक अल्लाह तौबा काबुल करने वाला मेहरबान है.
क़ुरान (सुरा हूज़रात 49/12)


ALLAH HAME HAQ BAAT SAMJHNE KI AUR SAHI AMAL KARNE KI TOFFIK ATA FARMAYE (AAMIN)

No comments:

Post a Comment

For any query call+919303085901